Saturday, September 19, 2020
Breaking News
Home / International / चीन से तनाव के बीच रूस ने UNSC में भारत की स्थायी सदस्यता का किया समर्थन

चीन से तनाव के बीच रूस ने UNSC में भारत की स्थायी सदस्यता का किया समर्थन

भारत, रूस और चीन के विदेश मंत्रियों के बीच आभासी बैठक जारी है। इस बैठक में भारत को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में भारत के लिए स्थायी सदस्यता की मांग भी उठी। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि बैठक में संयुक्त राष्ट्र में संभावित सुधारों और भारत को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बनाने की मांग भी उठी। उन्होंने कहा कि हमें लगता है भारत इसका पूर्णकालिक सदस्य बनने का हकदार है और हम भारत की दावेदारी का पूरा समर्थन करेंगे। इस दौरान उन्होंने डॉक्टर कोटनिस का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि डॉक्टर कोटनिस उन पांच भारतीय डॉक्टरों में शामिल थे जो दूसरे चीन-जापान युद्ध के दौरान वर्ष 1938 में चिकित्सा सहायता देने के लिए गए थे।

Today we talked of probable reforms of the United Nations & India is a strong nominee to become a permanent member of UN Security Council & we support India’s candidacy. We believe it can become a full-fledged member of the Security Council: Russian Foreign Minister Sergei Lavrov pic.twitter.com/crXZEx1s6V

— ANI (@ANI) June 23, 2020

विदेश मंत्री ने कहा कि उम्मीद है स्थिति शांतिपूर्ण बनी रहेगी
सीमा पर भारत और चीन के बीच चल रहे विवाद पर रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि भारत और चीन को बाहर से कोई मदद चाहिए। किसी को उनकी मदद करने की आवश्यकता नहीं है, खासकर जब यह देश के मुद्दों पर आता है। वे अपने विवाद को खुद के दम पर सुलझा सकते हैं। रूस-भारत और चीन के विदेश मंत्रियों की बैठक में रूसी विदेश मंत्री ने कहा कि हमें उम्मीद है कि स्थिति शांतिपूर्ण बनी रहेगी और दोनों देश विवादों के शांतिपूर्ण समाधान के लिए प्रतिबद्ध रहेंगे।

सर्गेई लावरोव ने कहा कि नई दिल्ली और बीजिंग ने शांतिपूर्ण समाधान के लिए अपनी प्रतिबद्धता जताई है। दोनों देशों ने रक्षा अधिकारियों, विदेश मंत्रियों के स्तर पर बैठकें शुरू कीं और दोनों पक्षों में से किसी ने भी ऐसा कोई बयान नहीं दिया, जिससे यह संकेत मिले कि उनमें से कोई भी गैर-कूटनीतिक तरीके से विवाद का समाधान चाहता है।