Tuesday, October 22, 2019
Breaking News
Home / STATE NEWS / Assam / पुलिस वाले ने गर्भवती महिला को निर्वस्त्र कर प्राइवेट पार्ट पर मारा लात, होने लगी ब्लीडिंग और हुआ गर्भपात

पुलिस वाले ने गर्भवती महिला को निर्वस्त्र कर प्राइवेट पार्ट पर मारा लात, होने लगी ब्लीडिंग और हुआ गर्भपात

असम के दारांग जिले से एक भयावह घटना सामने आई है। यहां के एक पुलिस स्टेशन के अंदर एक गर्भवती महिला और उसकी दो बहनों को कथित तौर पर निर्वस्त्र कर प्रताड़ित किया गया। पुलिस अधिकारी द्वारा पेट में लात मारने से गर्भवती महिला को ब्लीडिंग होने लगी और टॉर्चर के कारण उसने अपने बच्चे को खो दिया। यह घटना 8 सितंबर को हुई और मंगलवार (17 सितंबर) को सामने आई।

कथित यातना के बाद गर्भवती महिला को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गर्भपात के कारण उसने अपने बच्चे को खो दिया। खबरों के अनुसार, दारांग जिला पुलिस ने अपहरण के मामले में 8 सितंबर की रात गुवाहाटी में सिक्समाइल इलाके से तीन बहनों को उठाया और उन्हें बुरहा पुलिस चौकी ले गई।

10 सितंबर को दारांग जिले के पुलिस अधीक्षक को दायर शिकायत में पीड़िताओं ने आरोप लगाया है कि तीनों को उनके घर से एक पुलिस टीम द्वारा उठाया गया। शिकायत में उन्होंने कहा है कि उन्हें बुरहा पुलिस चौकी ले जाया गया, जहां पूरी रात उन्हें शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया गया। उनको निर्वस्त्र भी किया गया।

महिला ने अपनी शिकायत में कहा, ‘हमें बेरहमी से पीटा गया और पुलिस अधिकारी ने हमारे निजी अंगों को भी छुआ। पुलिस अधिकारी ने अपनी पिस्तौल दिखाकर हमें धमकी दी और उसके खिलाफ कोई भी शिकायत दर्ज नहीं करने को कहा।’

इस मामले में असम पुलिस द्वारा दो पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है और जांच शुरू की गई है। बुरहा पुलिस चौकी के प्रभारी अधिकारी और एक महिला पुलिस कांस्टेबल को निलंबित किया गया है।

बताया जाता है कि पुलिस ने इन तीनों को एक महिला के परिवार द्वारा उनके भाई के खिलाफ कथित अपहरण के मामले में उठाया था, जिसके साथ वह इस महीने की शुरुआत में भाग गई थी। जिस महिला के साथ उनका भाई भागा, वह अलग धर्म से है।