Sunday, September 20, 2020
Breaking News
Home / Religious / विश्वकर्मा पूजा के समय भूलकर भी न करें ये काम, वरना व्यापार में हो सकता है बड़ा नुकसान

विश्वकर्मा पूजा के समय भूलकर भी न करें ये काम, वरना व्यापार में हो सकता है बड़ा नुकसान

विश्वकर्मा पूजा 16 सितंबर 2020 को है. इस दिन भगवान विश्वकर्मा की पूजा की जाती है. विश्वकर्मा पूजा आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को की जाती है. माना जाता है कि इस दिन ऋषि विश्वकर्मा का जन्म हुआ था. इस दिन भगवान विश्वकर्मा के साथ ही कारखानों और फैक्ट्रियों में औजारों की पूजा की जाती है. इस दिन कुछ ऐसे भी कार्य हैं. जिन्हें करना वर्जित माना गया है और यदि आप इन कार्यों के बारे में नहीं जानते तो आज हम आपको इसके बारे में बताएंगे. आइए जानते हैं कि कौन से वो कार्य है जो विश्वकर्मा पूजा के दिन नहीं करना चाहिए…

– विश्वकर्मा पूजा पर भूलकर भी औजारों को इधर-उधर न फेंके नहीं तो आपको विश्वकर्मा भगवान के क्रोध का सामना करना पड़ सकता है.

– इस दिन आप न तो स्वंय अपने औजारों का इस्तेमाल करें और न हीं किसी और को करने दें.

– जिन वस्तुओं का आप अपने जीवन में रोज प्रयोग करते हैं उनकी विश्वकर्मा पूजा पर साफ सफाई करना न भूलें.

– अगर आप विश्वकर्मा भगवान की मूर्ति रखकर उनकी पूजा कर रहे हैं तो अपने औजारों को पूजा में रखना न भूलें.

– अगर आपकी कोई फैक्ट्री है तो विश्वकर्मा पूजा के दिन उनकी पूजा न करना भूलें.

– जिन लोगों की भी फैक्ट्रीयां आदि है या फिर उनका मशीन से जुड़ा कोई काम है तो उन्हें विश्वकर्मा पूजा के दिन अपनी मशीनों का प्रयोग नहीं करना चाहिए.

– यदि आपके पास कोई वाहन हैं तो आपको विश्वकर्मा पूजा के दिन उसकी साफ सफाई और पूजा करना नहीं भूलना चाहिए.

– विश्वकर्मा पूजा के दिन किसी भी पुराने औजार को अपने घर, फैक्ट्री या दुकान से बाहर न फेंके. ऐसा करना विश्वकर्मा जी का अपमान जाता है.

– आपको विश्वकर्मा पूजा के दिन भूलकर भी मांस और मदिरा का सेवन भी नहीं करना चाहिए.

– अपने व्यापार की वृद्धि के लिए आपको विश्वकर्मा पूजा के दिन निर्धन व्यक्ति और ब्राह्मण को दान अवश्य देना चाहिए.