Friday, October 19, 2018
Breaking News
Home / STATE NEWS / Uttarakhand / नैनीताल में हर्षोल्लास से मनाया गया 69वां गणतंत्र दिवस!

नैनीताल में हर्षोल्लास से मनाया गया 69वां गणतंत्र दिवस!

नैनीताल- जिला मुख्यालय में 69वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास से मनाया गया। हाईकोर्ट में जस्टिस लोकपाल सिंह द्वारा ध्वजारोहण किया गया। इस मौके पर जस्टिस मनोज तिवारी, रजिस्ट्रार जनरल नरेंद्र दत्त, बार एसोशिएसन अध्यक्ष नदीम मून आदि मौजूद थे। कलेक्ट्रेट में जिला प्रभारी मंत्री हरक सिंह, कमिश्नरी में अपर आयुक्त संजय खेतवाल, कुमाऊं विवि में कुलपति डॉ डीके नौडियाल द्वारा ध्वजारोहण किया। पुलिस की ओर से आयोजित भव्य परेड की सलामी प्रभारी मंत्री डॉ हरक सिंह रावत ने ली। पुलिस, महिला पुलिस, पीएसी, महिला पीएसी, फायर ब्रिगेड, ट्रेफिक पुलिस की टुकड़ी द्वारा आकर्षक परेड कर देश की आन बान शान के लिए मर मिटने का संदेश दिया।

फायर ब्रिगेड द्वारा पानी की बौछार से तिरंगा बनाया गया। स्वान द्वारा हैरतअंगेज करतब दिखाए गए। इससे पहले एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने अतिथियों पालिकाध्यक्ष श्यामनारायण, आईजी पूरन सिंह रावत, डीएम दीपेंद्र चौधरी, विधायक संजीव आर्य का स्वागत किया। इस मौके पर एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव व हरीश सती, अपर राज्य रेडियो अधिकारी जीएस पांडेय, मुख्य वन संरक्षक कपिल जोशी, भाजपा नेता भुवन हरबोला, नगर अध्यक्ष मनोज जोशी, पूर्व विधायक डॉ एनएस जंतवाल, सरिता आर्य, मुन्नी तिवारी, खष्टी बिष्ट, मारुति साह आदि मौजूद थे।

नैनीताल चिड़ियाघर में शुरू होगी नाइट सफारी – वन मंत्री डॉ हरक सिंह ने गणतंत्र दिवस पर नैनीताल चिड़ियाघर में रात दस बजे तक नाइट सफारी शुरू करने का ऐलान किया। कंडी रोड को सरकार की शीर्ष प्राथमिकता बताते हुये दोहराया कि यह सड़क कुमाऊं गढ़वाल को जोड़ने व वन्य जीवों को बचाने के लिए जरूरी है। बोले लालढाग से शुरुआत हो चुकी है। कोटद्वार से कालागढ़, कालागढ़ से रामनगर तक अलग अलग चरणों मे सड़क का निर्माण होगा। इसके लिए जीओ जारी हो चुका है। जल्द सरकार सुप्रीम कोर्ट व वन्य जीव बोर्ड भारत सरकार में प्रस्ताव रखेगी। यह देश की पहली ग्रीन रोड होगी। उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आगामी सीजन में आग बुझाने के लिए श्रमिकों की संख्या छह हजार से बढ़ाई जाएगी। अगले छह माह में वन विभाग में 1200 पदों पर भर्ती होगी।

इसके लिए प्रक्रिया में संशोधन किया गया है। हरक ने मसूरी में पशुपालन विभाग की ओर से बकरी स्वयंवर को लेकर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज के सुर में सुर मिलाते हुए नसीहत दी कि परंपरा व रीति रिवाज, स्वभिमान के साथ ही वन्य जीव जंतुओं के संरक्षण के नियमों के अनुसार चीजें होनी चाहिए।