Wednesday, October 17, 2018
Breaking News
Home / Politics / बीजेपी विधायक का बेटा बना चपरासी

बीजेपी विधायक का बेटा बना चपरासी

राजस्थान में सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा के एक विधायक के बेटे को विधानसभा में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की नौकरी मिली है। विधानसभा में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के 18 पदों के लिए 18 हजार उम्मीदवारों ने आवेदन किया था जिसमें बीए और एमए पास अभ्यर्थी भी शामिल थे।विधायक जगदीश मीणा के पुत्र रामकृष्ण मीणा 10वीं पास हैं और हाल में विधानसभा में हुई भर्ती में उनका चयन हुआ है। चपरासी के 18 पदों पर विधानसभा में 18 हजार से अधिक उम्मीदवारों को इंटरव्यू के लिए बुलाया गया था।
इनमें से अधिकांश उम्मीदवार उच्च शिक्षा प्राप्त थे। ऐसे में रामकृष्ण के चयन पर सवाल उठने लगे हैं।हालांकि, विधायक मीणा का कहना है कि उनका बेटा रामकृष्ण अपनी मेहनत के दम पर चयनित हुआ है। वहीं रामकृष्ण के अनुसार, वह पढ़ाई छोड़कर परिवार के साथ खेती में हाथ बंटाता था। पिछले साल ही 10वीं कक्षा की पढ़ाई प्राइवेट से पास की है।
 
कांग्रेस ने की जांच की मांग
इस मामले में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। पायलट का कहना है कि इस भर्ती में सभी आवेदनकर्ताओं की भर्ती सिफारिश के आधार पर की गई है। इनमें भाजपा नेताओं के रिश्तेदार भी शामिल हैं। इसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जानी चाहिए।