Wednesday, October 17, 2018
Breaking News
Home / STATE NEWS / Uttarakhand / Dehradun / अब उत्तराखंड के प्राइवेट अस्पतालों में इमरजेंसी इलाज मुफ्त

अब उत्तराखंड के प्राइवेट अस्पतालों में इमरजेंसी इलाज मुफ्त

इंडियन न्यूज़ नेटवर्क :  उत्तराखंड के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में सभी मरीजों को इमरजेंसी इलाज निशुल्क मिलेगा। केंद्र सरकार ने अपनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति में इसका प्रावधान किया है। अब राज्य सरकार भी जल्द ही इस योजना को उत्तराखंड में लागू करने जा रही है।

संसदीय कार्य मंत्री प्रकाश पंत ने सदन में यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए कार्य योजना तैयार की जा रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति में मरीजों को निशुल्क इलाज की सुविधा दी गई है। इसके तहत सरकारी अस्पतालों में मरीजों के 30 से ज्यादा टेस्ट फ्री होंगे जबकि सभी मरीजों को जनऔषधि मुफ्त उपलब्ध कराई जाएगी। इमरजेंसी में सभी मरीजों को निशुल्क इलाज का भी प्रावधान है। इसके तहत सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में इमरजेंसी इलाज की सुविधा फ्री मिलेगी। उधर, डीजी हेल्थ डॉ.डीएस रावत ने बताया कि इस योजना के तहत सरकारी अस्पतालों के साथ ही प्राइवेट अस्पतालों को भी शामिल किया गया है। इसके तहत प्राइवेट अस्पतालों में शुरू के 36 घंटे इमरजेंसी इलाज निशुल्क मिलेगा और इलाज पर हुए पूरी खर्च का भुगतान सरकार की ओर से प्राइवेट अस्पतालों को किया जाएगा।

वित्त मंत्री ने सदन में कहा कि सरकार राज्य के अस्पतालों में एमएसबीवाई मरीजों को पूरी तरह निशुल्क इलाज देगी। जबकि आयकर दायरे में आने वाले मरीजों के लिए ओपीडी और इलाज का चार्ज बढ़ाया जाएगा। सरकार के इस फैसले का असर राज्य के बाहर से इलाज के लिए आने वाले मरीजों पर भी पड़ेगा।

डेंटिस्ट करेंगे प्राथमिक उपचार

देहरादून। वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि सरकार डॉक्टर्स की कमी को दूर करने के लिए 203 पदों पर डेंटिस्ट की भर्ती कर रही है। इन डॉक्टर्स को दूरदराज के स्वास्थ्य केंद्रों पर तैनात किया जाएगा और इन्हें प्राथमिक उपचार की इजाजत दी जाएगी।