Monday, July 23, 2018
Breaking News
Home / Prime News / अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठेगा ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडेय का परिवार

अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठेगा ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडेय का परिवार

दिवंगत ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे के परिवार ने सरकार पर छलावा करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि अगर 15 फरवरी तक दस लाख रुपए की सहायता और नौकरी का वादा पूरा नहीं किया जाता है तो पूरा परिवार धरने पर बैठ जाएगा।

हल्द्वानी में मीडिया से बातचीत करते हुए दिवंगत प्रकाश पांडे की पत्नी कमला पांडे, माता देवकी देवी, पिता दयानंद और भाई ललित ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कहा कि पति की मौत के बाद दस जनवरी को डीएम दीपेंद्र चौधरी ने सरकार के प्रतिनिधि बतौर घर आकर 12 लाख और नौकरी दिलाने का वादा किया था। अगले दिन डीएम ने दो लाख रुपये दिए भी। तेरहवीं तक तो सभी लोग आए, लेकिन उसके बाद कोई नेता, जनप्रतिनिधि और सरकारी नुमाइंदा सुध लेने तक नहीं आया।
एक माह तक डीएम और मेयर ने भी फोन नही उठाया। मीडिया में बयान छपने के बाद आज सुबह डीएम ने फोन करके कहा कि 15 फरवरी तक कुछ मदद करेंगे। पीड़ित परिवार का कहना है कि कैसे उनके बच्चे पढ़ेंगे और कैसे घर का खर्चा चलेगा। उनका कहना है कि क्या सरकार ऐसी होती है जो अपने ही वादे से मुकर जाए।
वहीं पांडेय की मां देवकी रोते हुए बोलीं कि पांडेय की मौत को एक माह तीन दिन बीत गए हैं। कृषि मंत्री उस समय चाहते तो मेरे बेटे को धक्का मारने की बजाय बचा सकते थे। उनका कहना है कि उनका बेटा मजबूर था और परेशान होकर उसे मौत चुननी पड़ी।