Friday, October 20, 2017
Breaking News
Home / Prime News / 17 अगस्त से किसानों को लोन से मुक्ति का सर्टिफिकेट देगी, योगी सरकार !

17 अगस्त से किसानों को लोन से मुक्ति का सर्टिफिकेट देगी, योगी सरकार !

किसानों के ऋण माफी का कार्य 17 अगस्त से शुरू हो जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राजधानी के स्मृति उपवन में किसानों को ऋण माफी के प्रमाण पत्र प्रदान करेंगे। लखनऊ में प्रस्तावित इस पहले ऋ़ण माफी कार्यक्रम में साढ़े नौ हजार किसानों को ऋण माफी प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। बाद में जिलों में भी ऐसे ही कार्यक्रमों का आयोजन कर प्रभारी मंत्री से लेकर सांसद, विधायक व जन प्रतिनिधियों की ओर से किसानों के बीच ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किए जाएंगे। जानकारों की माने तो ऋण माफी योजना के तहत पहले चरण में आधार से लिंक्ड रजिस्टर्ड किसानों के ऋण माफ किए जाएंगे।

इसके बाद गैर आधार वाले लेकिन जिनके ऋण को लेकर कोई विवाद न हो उनके लोन माफ होंगे। अन्तिम चरण में भू-लेखों के अनुसार विवादित किसानों मसलन एक भूमि के कई हिस्सेदार होने के कारण ऋण माफी की दावेदारी करने वाले अधिक लोगों के ऋण माफी की कार्यवाही की जाएगी। सरकार ने इस योजना के क्रियान्वयन के लिए जिले स्तर पर डीएम की अध्यक्षता में एक समिति बना दी है जिसका सचिव सीडीओ को बनाया गया है लेकिन जिला कृषि अधिकारी को उप सचिव का दर्जा देते हुए ऋण माफी की कुल राशि जिला कृषि अधिकारी के खाते में भेजा है ताकि कृषि विभाग के रिकार्ड में दर्ज रजिस्टर्ड किसानों के आधार पर योजना के धन का पूरा ब्यौरा संकलित हो सके।

जिला मुख्यालयों पर होने वाले ऋण माफी योजना के कार्यक्रम के लिए सरकार ने बकायदा निर्देश जारी कर दिए हैं। हालांकि कई जिलों में अब तक ऋणी किसानों की सूची तैयार करने में सरकारी अधिकारियों को पसीने छूट रहे हैं। विदित हो कि ऋण माफी योजना में कृषि विभाग के साथ-साथ संस्थागत वित्त व राजस्व विभाग को भी जिम्मेदार बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *